Saturday, October 7, 2017

दवा देकर एहसान न जताओ, ये दर्द भी तुमने ही दिया है।


No comments:

Post a Comment