Wednesday, July 7, 2010

कार्टून- फीफा कप यानि 'फीका कप चाय का'


4 comments:

  1. हा हा हा
    यह मैच फ़िक्स है

    ReplyDelete
  2. आप जिएँ हज़ारों साल...साल के दिन हों पचास हज़ार...
    जन्मदिन मुबारक

    ReplyDelete

  3. चंद्रशोखर जी,
    आरज़ू चाँद सी निखर जाए, ज़िंदगी रौशनी से भर जाए।
    बारिशें हों वहाँ पे खुशियों की, जिस तरफ आपकी नज़र जाए।
    जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    …………..
    अद्भुत रहस्य: स्टोनहेंज।
    चेल्सी की शादी में गिरिजेश भाई के न पहुँच पाने का दु:ख..।

    ReplyDelete
  4. चन्द्र शेखर जी आपके कार्टून ही सब कुछ कह देते हैं आप जहां भी रहेगें लोग आपको अपने दिलों में जगह देंगे आपने लिखा है की आपको राजनीती नहीं आती और २५ सालों में भी इस नायाब कला को प्रोफेशन नहीं बना पाया ,आप कभी ऐसा कर भी नहीं पायेगें क्योकिं सच्चा कलाकार कभी व्यवसायिक हो ही नहीं सकता आपको राजनीति रास भी नहीं आएगी ये उन अवसरवादियों का कार्य क्षेत्र है जो इंसानियत से कोसो दूर हैं
    हमें ईश्वर ने जिस कम के लिए बनाया है हम वही करे- है ना- आपके पास जो ईश्वर प्रदत्त कला है वो हर किसी को नहीं मिलती मुझे आप पर गर्व है और आपके लिए ये लाइने "हम भी बहते दरिया हैं हमें अपना हुनर मालूम है जिस तरफ भी चलेगें रास्ता हो जाएगा " तो बढे चले मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं -ममता व्यास

    ReplyDelete